आवास प्लस सूची में चिन्हित 46677 परिवारों के लिए मांगे पक्के मकान।

आवास प्लस सूची में चिन्हित 46677 परिवारों के लिए मांगे पक्के मकान।

देहरादून : केन्द्रीय गाम्य विकास एवं पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह इन दिनों उत्तराखण्ड राज्य के दौरे पर हैं। सूबे के ग्राम्य विकास एवं कृषि मंत्री गणेश जोशी द्वारा केन्द्रीय मंत्री के सम्मान में आज प्रातः 9ः00 बजे, अपने शिविर कार्यालय में नाश्ते का अयोजन किया। इस दौरान क्षेत्र के वरिष्ठ भाजपा कार्यकर्ता तथा देहरादून जनपद के समस्त मा0 विधायगणों को भी आमंत्रित किया गया। इस दौरान गणेश जोशी द्वारा राज्य के लिए 15000 पक्के आवास आवंटन संबंधी मांग पत्र भी केन्द्रीय ग्राम्य विकास मंत्री को सौंपा।


उन्होंने बताया कि भाजपा द्वारा विधानसभा चुनाव में जारी किए गए दृष्टिपत्र में ग्रामीण क्षेत्रों में निवासरत गरीब परिवारों को पक्के आवास उपलब्ध करवाने का वादा किया गया है। इस क्रम में राज्य की आवास प्लस सूची में चिन्हित अवशेष 46,677 परिवारों को प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) से लाभान्वित किए जाने हेतु उत्तराखण्ड राज्य को वित्तीय वर्ष 2022-23 हेतु कम से कम 15000 आवास निर्माण का लक्ष्य प्रदान किया जाए। इस पर केन्द्रीय मंत्री द्वारा राज्य को हर संभव सहयोग का वादा किया गया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार जैसे देवभूमि की शान कहे जाने वाले केदारनाथ धाम का कायकल्प कर रही है उसी तरह पूरे उत्तराखण्ड को संवारने के लिए प्रतिबद्ध है।
उन्होंने यह भी बताया कि इससे पूर्व राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों को पक्की सड़कों से जोड़ने हेतु प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के मानकों को उत्तराखण्ड जैसे पहाड़ी राज्य के लिए शिथिल करते हुए राज्य में 250 जनसंख्या से 150 जनसंख्या वाली वसावटों को योजना में सम्मिलित किए जाने की मांग पहले ही की जा चुकी है।
इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष रितु खण्डूरी, धर्मपुर विधायक विनोद चमोली, डोईवाला विधायक बृजभूषण गौरोला, राजपुर विधायक खजान दास, रायपुर विधायक उमेश शर्मा काऊ, कैंट विधायक सविता कपूर, मेयर सुनिल उनियाल गामा, जिलाध्यक्ष शमशेर पुण्डीर, जिला पंचायत सदस्य वीर सिंह चौहान, मण्डल अध्यक्ष पूनम नौटियाल, मंजीत रावत, सुरेन्द्र राणा, पार्षद भुपेन्द्र कठैत, सत्येन्द्र नाथ, चुन्नी लाल, संजय नौटियाल, नंनदनी शर्मा, योगेश घाघट और कमल थापा, आएस परिहार, निरंजन डोभाल, अतुल गोयल आदि उपस्थित रहे।

admin

जागरूकता ही मिशन

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *